ED ने पूर्व गृहमंत्री अनिल देशमुख को दिया 24 घंटे का अल्टीमेटम, कहा- दिए समय में करना होगा ये काम नहीं तो…

अनिल देशमुख ने अपने वकील जयवंत पाटिल को ED दफ्तर में भेजा था और ED दफ्तर में पेश नहीं हुए थे। इसके बाद ED ने दोबारा समन जारी कर मंगलवार को फिर से पूछताछ के लिए बुलाया था।

नई दिल्ली।। ED ने मंगलवार को पूर्व गृहमंत्री अनिल देशमुख को 100 करोड़ वसूली मामले में पूछताछ के लिए 24 घंटे का अल्टीमेटम दिया है। ED ने कहा अगर दिए गए समय के दौरान अनिल देशमुख दफ्तर में हाजिर नहीं होते है तो ED की टीम खुद उनके घर जाकर उनसे पूछताछ करेगी। अनिल देशमुख से पूछताछ के लिए ED ने मुंबई में 3 टीम व नागपुर में 2 टीम तैनात की हैं।

प्राप्त जानकारी के अनुसार 100 करोड़ रुपये वसूली मामले में पूर्व गृहमंत्री अनिल देशमुख को मंगलवार को ED के कार्यालय में उपस्थित रहने के लिए दोबारा समन जारी किया गया था। लेकिन अनिल देशमुख मंगलवार को फिर से ED के दफ्तर नहीं गए। उन्होंने अपने वकील इंद्रपाल सिंह को ED दफ्तर में भेजकर मामले की पूछताछ वर्चुअल पद्धति से किए जाने की मांग की।

उन्होंने अपनी उम्र, बीमारी व कोरोना का भी उल्लेख ED को भेजे गए पत्र में किया है। अनिल देशमुख के इस पत्र के बाद ED ने कड़ा रुख अख्तियार किया है और उन्हें 24 घंटे में ED दफ्तर में हाजिर होने का आदेश जारी किया है। ED का कहना है कि पूछताछ के मुद्दे गोपनीय हैं और उन्हें सार्वजनिक नहीं किया जा सकता है।

उल्लेखनीय है कि मुंबई के पूर्व पुलिस आयुक्त परमबीर सिंह ने अनिल देशमुख पर 100 करोड़ रुपये रंगदारी वसूली का आरोप लगाया था। इसी आरोप के आधार पर वकील जयश्री पाटिल ने मुंबई उच्च न्यायालय में याचिका दायर की थी। उच्च न्यायालय ने ही मामले की छानबीन का आदेश जारी किया था।

इस मामले में मनी लॉड्रिंग के एंगल से ED छानबीन कर रही है। ED ने इस मामले में अनिल देशमुख के पीए कुंदन शिंदे व संजीव पालांडे को गिरफ्तार किया है। दोनों पीए की गिरफ्तारी के बाद ही ED ने अनिल देशमुख को समन जारी कर पूछताछ के लिए बुलाया था।

इसके बाद अनिल देशमुख ने अपने वकील जयवंत पाटिल को ED दफ्तर में भेजा था और ED दफ्तर में पेश नहीं हुए थे। इसके बाद ED ने दोबारा समन जारी कर मंगलवार को फिर से पूछताछ के लिए बुलाया था। आज फिर से अनिल देशमुख ED के समक्ष पेश नहीं हुए, जिस पर ED ने अब अनिल देशमुख को 24 घंटे का समय दिया है। ED के अल्टीमेटम के बाद अनिल देशमुख आगामी रणनीति के लिए वकीलों की सलाह ले रहे हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button