Maharashtra Government: सरकार बनाम राज्यपाल, कोश्यिारी को सरकारी विमान से उतारा

Maharashtra Government: राज्यपाल भगतसिंह कोश्यारी और ठाकरे सरकार के बीच रिश्ते उस दौर में पहुँच चुके हैं, जिसे न तो बा-पर्दा कहा जा सकता है और न ही बे-पर्दा। बात अब नोकझोंक से आगे यहां तक पहुंच गई है.

Maharashtra Government: राज्यपाल भगतसिंह कोश्यारी और ठाकरे सरकार के बीच रिश्ते उस दौर में पहुँच चुके हैं, जिसे न तो बा-पर्दा कहा जा सकता है और न ही बे-पर्दा। बात अब नोकझोंक से आगे यहां तक पहुंच गई है कि महाराष्ट्र सरकार ने गवर्नर को सरकारी विमान इस्तेमाल करने की इजात देने से मना कर दिया। राज्यपाल को सरकारी विमान से नीचे उतरना पड़ा। जानकारी के मुताबिक राज्यपाल के सचिव ने विमान की मंजूरी के लिए मुख्यमंत्री के दोनों सचिव को फोन भी किया, लेकिन बात नहीं बनी। इसके बाद राजयपाल को निजी विमान सेवा से गंतव्य की ओर रवाना होना पड़ा।

उल्लेखनीय है कि राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी को मसूरी में आईएएस अकादमी में आयोजित एक कार्यक्रम में भाग लेने के लिए जाना था। वह विमान में सवार हुए, कुछ देर बाद उन्हें पता चला कि उड़ान भरने की अनुमति नहीं है। इसके बाद राज्यपाल निजी विमान सेवा स्पाइसजेट से मसूरी की ओर रवाना हुये। इस इस मामले को लेकर भाजपा और उद्धव सरकार (Maharashtra Government) के बीच बयानबाजी शुरू हो गई है।

इस घटना के बाद महाराष्ट्र में सियासत सरगर्म हो गई है। वरिष्ठ भाजपा नेता और पूर्व मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस ने उद्धव सरकार (Maharashtra Government) पर निशाना साधते हुए कहा कि महाराष्ट्र में पहले कभी ऐसी घटना नहीं हुई। फडणवीस ने कहा कि राज्यपाल कोई व्यक्ति नहीं बल्कि एक संस्था है और संस्था का सम्मान होना चाहिए।

इस मामले में शिवसेना के नेता एवं सांसद संजय राउत ने कहा कि मुख्यमंत्री समेत पूरी सरकार राज्यपाल का सम्मान करती है। उन्होंने कहा कि मुझे जो जानकारी मिली, उसके अनुसार वे चमोली जा रहे हैं। राउत ने कहा कि किसी संवैधानिक पद पर बैठकर व्यक्तिगत यात्रा पर सरकारी प्लेन का प्रयोग नहीं कर सकते हैं।

Kangana Ranaut Twitter, बोलीं-तुम मुझे खून दो मैं तुम्हे आजादी दूंगा, जानें पूरा मामला

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button