बिहार में पूर्ण लॉकडाउन पर मांझी की आपत्ति, कहा तभी समर्थन जब तीन महीने तक सबका …

पटना। कोरोना महामारी का प्रकोप से देश में हाहाकार मचा है। देश के कई राज्यों में आंशिक और वीकेंड लॉकडाउन लगाया गया है। बिहार में नीतीश सरकार पूर्ण लॉकडाउन लगाने पर विचार कर रही है। एनडीए के सहयोगी दल हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा (हम) के मुखिया और पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी ने लॉकडाउन लगाने पर सख्त आपत्ति जताते हुए सरकार के सामने कुछ अहम शर्तें रखीं हैं।

हम के अध्यक्ष जीतनराम मांझी ने ट्वीट कर कहा है कि मैं लॉकडाउन का तभी समर्थन करूंगा जब तीन महीने तक सबका बिजली और पानी बिल माफ किया जाए। साथ ही किराएदारों का किराया, बैंक लोन की इएमआइ और कॉलेजों की फीस भी माफ की जाए। मांझी ने कहा कि किसी को शौक नहीं है कि वह बाहर जाए, पर रोटी और कर्ज जो न कराए। यह बात एसी वाले लोग नहीं समझेंगे।

गौरतलब है कि बिहार में कोरोना से हालात बिगड़ते जा रहे हैं। अस्पतालों में ऑक्सीजन और बीएड की भारी किल्लत है। फिलहाल राज्य में नाइट कर्फ्यू लगा है, जबकि कुछ जिलों में वीकेंड लॉकडाउन लगाया गया है। कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए अब बिहार में पूर्ण लॉकडाउन लगाने की मांग हो रही है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button