मौसम विभाग ने जारी किया अलर्ट, कई जिलों में बारिश व ओलावृष्टि के साथ बिजली गिरने के आसार

मौसम विज्ञानियों के मुताबिक इस सिस्टम के कारण आ रही नमी से बादल बने हुए हैं। वर्तमान में बंगाल की खाड़ी और अरब सागर दोनों स्थानों से मध्य प्रदेश के वातावरण में हवाओं के साथ नमी आने का सिलसिला बना हुआ है।

भोपाल।। मध्य प्रदेश में पिछले दो-तीन दिनों से प्री मानसून की गतिविधियां देखने को मिल रही है। प्रदेश भर में बेमौसम बारिश और ओलावृष्टि का सिलसिला अभी थमता नजर नहीं आ रहा है। मौसम विभाग की मानें तो रविवार को भी एक नया पश्चिमी विक्षोभ उत्तर भारत में दाखिल होने जा रहा है। उसके प्रभाव से अभी तीन-चार दिनों तक मौसम साफ होने के आसार नहीं दिख रहे। प्रदेश में अभी बारिश का सिलसिला जारी रहेगा और आगामी चौबीस घंटे में प्रदेश के कई जिलों में बारिश और ओलावृष्टि के साथ बिजली गिरने की संभावना है।

वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक पीके साहा ने बताया कि अभी प्रदेश में एक साथ 3 सिस्टम एक्टिव हैं। वर्तमान में एक पश्चिमी विक्षोभ उत्तर भारत में मौजूद है। रविवार को एक अन्य पश्चिमी विक्षोभ के उत्तर भारत में पहुंचने की संभावना है। उधर दक्षिण-पूर्वी मध्य प्रदेश और उससे लगे हुए राजस्थान पर एक ऊपरी हवा का चक्रवात बना हुआ है।

मौसम विज्ञानियों के मुताबिक इस सिस्टम के कारण आ रही नमी से बादल बने हुए हैं। वर्तमान में बंगाल की खाड़ी और अरब सागर दोनों स्थानों से मध्य प्रदेश के वातावरण में हवाओं के साथ नमी आने का सिलसिला बना हुआ है। प्रदेश के अलग-अलग स्थानों पर रुक-रुक कर हो रही बारिश से भी वातावरण में नमी बनी हुई है। इस वजह से दिन में तापमान बढ़ते ही शाम के समय स्थानीय स्तर पर भी गरज-चमक की स्थिति बनी लगती है। मौसम विभाग के मुताबिक होली के कुछ दिनों पहले तक 23-24 मार्च तक प्रदेश का मौसम इसी तरह का रहने का अनुमान है। इसके बाद पश्चिमी विक्षोभ का असर धीरे-धीरे कम होने और मौसम साफ होने लगेगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button