Tourism की यूपी में होगी तेज रफ्तार, आकर्षक हॉलीडे पैकेज तैयार कर रही योगी सरकार

पर्यटकों को प्रकृति के अनूठे रूप का दीदार कराएंगे वन व पर्यटन विभाग के हॉलीडे पैकेज, पर्यटन के साथ प्रदेश भर में बढ़ेंगे रोजगार के भी अवसर 

लखनऊ। Tourism योगी सरकार पर्यटकों के लिए यूपी में सबसे अनूठा और आकर्षक पैकेज तैयार कर रही है। मेक माई ट्रिप, गो अबीबो जैसी साइटों की तरह अब उत्तर प्रदेश के वन निगम और पर्यटन विभाग भी हॉलीडे पैकेज मुहैया कराएंगे। टूरिस्टों के लिए पैकेज में वन क्षेत्रों के अलावा यूपी के पसंदीदा डेस्टिनेशन भी शामिल होंगे।(Tourism)
Tourism in UP
इन पैकेजों के जरिए राज्य सरकार उन जगहों को बढ़ावा देगी, जिनमें टूरिस्ट डेस्टीनेशन बनने की पोटेंशियल तो है, मगर पिछली सरकारों की उपेक्षा के कारण अभी तक ये पर्यटकों की नजर से दूर रहे हैं। योगी सरकार इन्हीं जगहों को अब पर्यटन (Tourism) के लिहाज से हाट डेस्टिनेशन बनाने की तैयारी कर रही है। इन पैकेजों में पर्यटकों के लिए रहने, खाने और उनके घूमने के लिए गाड़ी की सुविधाएं भी दी जाएंगी।
राज्य सरकार के एक प्रवक्ता ने बताया कि पर्यटन (Tourism) क्षेत्रों के महत्व समझाने और उसके इतिहास को बताने के लिए सरकार गाइड की भी सुविधा देगी। वन विभाग ने इस प्रस्ताव को तैयार कर लिया है। पर्यटन (Tourism) विभाग की सहमति और राज्य सरकार की हरी झंडी मिलने के साथ ही इसे पर्यटकों के लिए खोल दिया जाएगा। वर्ष 2019 में देशी पर्यटकों की आमद के मामले में देश में नंबर वन बन चुके उप्र की योगी सरकार इस मुहिम को और रफ्तार देने की योजना पर काम कर रही है। कोरोना के झटके के बावजूद योगी सरकार पर्यटन (Tourism) की सुविधाजनक नीतियों के जरिये उत्तर प्रदेश को आने वाले समय में देश और दुनिया में पर्यटन के बड़े केंद्र के तौर पर विकसित करने की तैयारी में जुटी है।

Tourism- होम स्टे को मिलेगा बढ़ावा

प्रवक्ता ने बताया कि इन पैकेजों के लिए राज्य सरकार की कोशिश होम स्टे योजना को भी बढ़ावा देने की है। वन विभाग खासतौर पर होम स्टे योजना को बढ़ावा देना चाहता है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की योजना होम स्टे के जरिये ग्रामीण और वन क्षेत्रों में रहने वाले लोगों को रोजगार से जोड़ कर मुख्य धारा में लाने की है। मुख्यमंत्री समीक्षा बैठकों में सरकार के आला अधिकारियों को भी पर्यटन उद्योग के विकास के साथ स्थानीय लोगों को रोजगार से जोड़ने के निर्देश दे चुके हैं। खासतौर पर ऐसे इलाके जिनका अपना ऐतिहासिक महत्व है। होम स्टे को बढ़ावा देने के लिए भी वन विभाग योजना चला रहा है। तराई के जिलों के साथ-साथ बुंदेलखंड और विन्ध्य क्षेत्र में भी इस योजना को शुरू किया जा रहा है।

लखनऊ, दिल्ली, नोएडा से मिलेगी पर्यटकों को सुविधा

वन विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक पर्यटकों के लिए पैकेज की व्यवस्था लखनऊ, दिल्ली और नोएडा से होगी। जहां के लिए भी पर्यटक (Tourism) अपनी बुकिंग कराएंगे। वहां से गाड़ी उन्हें लेकर डेस्टिनेशन पर  जाएगी। पर्यटकों की पसंद के मुताबिक होम स्टे या फिर होटल में ठहरने की व्यवस्था होगी। पर्यटकों को उनकी आवश्यकता के आधार पर गाइड की सुविधा भी टूर के दौरान दी जाएगी, जिनसे चीजों को समझने में किसी भी तरह की कोई दिक्कत न आए।

Tourism- रोजगार के अवसर भी बढ़ेंगे

सरकार के प्रवक्ता का कहना है कि पर्यटन (Tourism) को बढ़ावा देने के साथ इस योजना के जरिए होम स्टे को बढ़ावा मिलेगा। इससे स्थानीय स्तर पर लोगों को रोजगार के अवसर मिलेंगे। इसके अलावा गाइड के रूप में भी स्थानीय लोगों को रखा जाएगा। साथ ही टूरिस्ट स्पॉट के आसपास वहां की स्थानीय चीजों की बिक्री भी होगी। इससे स्थानीय शिल्पकारों को रोजगार मिलेगा।
उत्तराखंड : कुंभ 2021 को लेकर अब तक सरकार ने की हैं ये तैयारियां, जानिए पूरी जानकारी

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button