Terrorist के निशाने पर यूपी: अमीनाबाद और हनुमान सेतु मंदिर को दहलाने की थी योजना

कश्मीर के आतंकी तौहीद और मूसा ने मिन्हाज़ और मुशीर को लखनऊ की किसी भीड़भाड़ वाली जगह को निशाना बनाने का दिया था आदेश

Lucknow । दुनिया में गंगा-जमुनी तहजीब के मरकज के तौर पर मशहूर लखनऊ को खूंखार अंतर्राष्ट्रीय आतंकी (Terrorist) संगठनों को नजर लग गई है। ये संगठन शहर-ए-तहजीब के अमन और भाईचारे को ख़त्म करने पर तुले हुए हैं। सरहद पार बैठे इंसानियत के दुश्मन राजधानी के सबसे ज्यादा भीड़भाड़ माले इलाके अमीनाबाद बाजार हनुमान मंदिर और हनुमान सेतु मंदिर को दहलाना चाहते थे। हालांकि सुरक्षा एजेंसियों ने सतर्कता दिखाते हुए उनके (Terrorist) मंसूबों को धवस्त कर दिया।

ये अहम खुलासा गत रविवार को राजधानी से गिरफ्तार अंसार गजवातुल हिंद के आतंकी मिन्हाज़ और मुशीर से शुरुआती पूछताछ में हुआ है। सूत्रों के मुताबिक कश्मीर के आतंकी तौहीद और मूसा ने मिन्हाज़ और मुशीर को लखनऊ की किसी भीड़भाड़ वाली जगह को निशाना बनाने का आदेश दिया था। मिन्हाज़ और मुशीर ने अपने आका के आदेशों के मुताबिक़ धमाके के लिए प्रेशर कुकर बम तैयार कर लिया था।

योजना के मुताबिक़ मंगलवार या शनिवार को ई-रिक्शा चलाने वाला मुशीर किसी ई-रिक्शा में प्रेशर कुकर बम रखकर उसे भीड़भाड़ वाली जगह में खड़ा कर धमाका करता। एटीएस सूत्रों के मुताबिक धमाके को अंजाम देने के लिए दोनों ने कानपुर और लखनऊ के युवकों के जरिए असलहा और बारूद जुटाया था। एटीएस को कानपुर और लखनऊ के दो-दो युवकों की जानकारी भी मिल गई है, अब जल्द ही इन चारों की गिरफ्तारी हो सकती है।

उल्लेखनीय है कि राजधानी से गिरफ्तार अंसार गजवातुल हिंद के आतंकी (Terrorist) मिन्हाज़ और मुशीर 26 जुलाई तक एटीएस की कस्टडी रिमांड पर हैं। इस दौरान पूछताछ के लिए एनआईए और दिल्ली स्पेशल सेल की टीम भी लखनऊ पहुंच गई है। विस्तृत पूछताछ (Terrorist) में और भी बड़े खुलासे हो सकते हैं। फिलहाल, एहतियात के तौर पर राजधानी समेत प्रदेश के सभी महत्वपूर्ण स्थलों की सुरक्षा सख्त कर दी गई है।

Attack on terrorism : UP ATS ने अलकायदा के तीसरे आतंकी को भी दबोचा

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button