महिला ने प्रेमी के साथ मिलकर की ससुर और ननद की हत्या, पीछे की वजह जान दंग रह जाएंगे आप

झबरेड़ा पुलिस ने दर्ज तहरीर के आधार पर दो लोगों को अरेस्ट किया है।

हरिद्वार॥ झबरेड़ा पुलिस ने दर्ज तहरीर के आधार पर दो लोगों को अरेस्ट किया है। विगत 14 दिसंबर को सूरज पुत्र अरविंद ने दी तहरीर में बताया था कि उसकी पत्नी ने उसके दादा महेंद्र ओर बहन प्रीति की रंजिशन हत्या की है, जिसके बाद पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर रिया उर्फ अन्नू व रोहित उर्फ रामू को अरेस्ट कर लिया।

Murder

सिविल लाईन कोतवाली में गुरुवार को घटना का खुलासा करते हुए एसपी देहात स्वप्न किशोर सिंह ने बताया कि सूरज कुमार पुत्र अरविन्द निवासी ग्राम मानकपुर थाना झबरेड़ा ने रोहित उर्फ रामू व रिया उर्फ अन्नू द्वारा अवैध सम्बन्धों के चलते उसके दादा महेन्द्र व उसकी बहन प्रीति की हत्या कर देना तथा परिजनों को गुमराह करने के सम्बन्ध में तहरीर दी थी। जिसके आधार पर रोहित उर्फ रामू आदि के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया था। पुलिस टीम ने घटना में नामजद आरोपितों के सम्बन्ध में सुराग इकट्ठा किए।

16 दिसम्बर को आरोपी रोहित पुत्र रतन ग्राम मुंडी खेड़ी थाना रामपुर मनिहारन तथा 17 दिसम्बर को रिया पत्नी सूरज निवासी ग्राम मानकपुर को अरेस्ट किया गया। पूछताछ में रिया ने बताया कि उसके पड़ोस में रहने वाले रोहित के साथ उसके संबंध थे। जिस दिन रिया के पति की कम्पनी में नाइट ड्यूटी होती थी, उस दिन रिया व रोहित मिलने की योजना बनाते थे।

जब रिया का पति सूरज ड्यूटी के लिये कम्पनी चला जाता था, तो रिया ससुर महेंद्र के खाने में नशे की गोलियां मिला देती थी। दो नवम्बर को रात में रोहित, रिया के घर पर आया था और वापस जाते समय रिया के दादा ससुर ने देख लिया। रिया व रोहित ने मिलकर दादा ससुर महेन्द्र की गला दबाकर हत्या कर दी।

इसके बाद दोनों ने मिलकर शव को चारपाई के ऊपर लिटा दिया, जिससे कि किसी को कोई शक न हो और सब उसे साधारण मौत समझे। ससुर की मृत्यु के बाद से रिया के पति सूरज ने कम्पनी जाना छोड़ दिया था। रिया की ननद प्रीति अपने मामा के घर ग्राम भटौल से वापस अपने घर आ गयी। प्रीति के घर पर आ जाने के कारण रिया व रोहित आपस में मिल नहीं पा रहे थे। इस कारण रिया व रोहित ने आपस में मिलकर प्रीति को मारकर रास्ते से हटाने की योजना बनायी।

योजना के मुताबिक 5 नवंबर की रात को रिया ने प्रीति के खाने में नशे की गोली मिलाकर दे दी, वह नशे की गोलियां रोहित ने लाकर दी थी। जब प्रीति बेहोश हो गई, तो रिया ने प्रीति की तकिये से मुंह दबाकर हत्या कर दी। उसके बाद रिया ने रात में करीब 11 बजे चिल्लाकर अपने पति को जगाया तथा प्रीति को कुछ हो गया बोलने का नाटक किया, जिससे घरवालों को उस पर कोई शक न हो।

पूछताछ में आरोपितों ने यह भी बताया कि जब दादा ससुर महेन्द्र व प्रीति की दोनों ने मिलकर हत्या कर दी और किसी को कोई शक नहीं हुआ, तो उन्होंने फोन पर कुछ दिन बाद पति सूरज को भी रास्ते से हटाने का प्लान बना लिया था। पुलिस टीम ने आरोपी रिया की निशानदेही पर प्रीति की हत्या करने में प्रयुक्त किया गया तकिया तथा नशे की गोलियों को बरामद किया है। पुलिस ने आरोपितों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर उन्हें जेल भेज दिया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button