इस राज्य में ‘भारत बंद’ का दिखा व्यापक असर, किसानों ने रास्तों को किया चौतरफा सील

बंद सुबह 6 बजे शुरू हुआ, जो शाम 6 बजे तक रहेगा। बंद को देखते हुए पंजाब के कुछ जिलों में धारा 144 लगा दी गई।

चंडीगढ़।। तीन केंद्रीय कृषि कानूनों के खिलाफ संयुक्त किसान मोर्चा के भारत बंद के आह्वान का पंजाब में व्यापक असर पड़ा है। किसानों ने एक तरह से पंजाब को चौतरफा सील कर दिया है। पंजाब में प्रवेश वाले सभी रास्तों को किसानों ने जाम कर दिया है। हालांकि सड़कों पर दोपहिया वाहन चल रहे हैं और गलियों से भी वाहनों का का चलना जारी है। सब्ज़ियों, दूध की सप्लाई बंद है।

बंद को देखते हुए रात भर राज्य से होकर गुजरने वाले राष्ट्रीय मार्गों से वाहनों की भरपूर आवाजाही रही। सभी अपने ठिकाने पर पहुँचने के प्रयास में थे। इसी के चलते चंडीगढ़-अम्बाला मार्ग पर रात से लंबी दूरी तक जाम लगा रहा।

बंद सुबह 6 बजे शुरू हुआ, जो शाम 6 बजे तक रहेगा। बंद को देखते हुए पंजाब के कुछ जिलों में धारा 144 लगा दी गई। जिला उपयुक्त गुरदासपुर द्वारा जारी आदेश में कहा गया है कि पांच अथवा इससे अधिक लोगों के एकत्र होने, धरना-प्रदर्शन पर पाबंदी रहेगी। पंजाब में टोल प्लाजा पर पहले से ही किसानों का धरना जारी था। इन्ही टोल प्लाजा को किसानों ने अवरोध के रूप में इस्तेमाल करते हुए मार्ग बंद कर दिए।

सभी मुख्य राष्ट्रीय राज मार्ग अवरुद्ध थे। हरियाणा के अम्बाला में नई दिल्ली-कटरा वंदे भारत एक्सप्रेस को अम्बाला में रोका गया है। पंजाब -हरियाणा का संपर्क मार्ग जीरकपुर-पंचकूला मार्ग भी बंद था। रोहतक -पानीपत हाईवे जाम है।

पंजाब से गत रात्रि करीब 200 ट्रैक्ट -ट्रॉलियों में किसान सिंघु बॉर्डर पर पहुँच गए। पंजाब के बड़े शहरों जालंधर, अमृतसर, पटियाला, लुधियाना में व्यापारिक गतिविधियां बंद हैं और पुलिस की गश्त जारी है। पंजाब से प्रवेश करने वाली चंडीगढ़ सीमा पर पुलिस का पहरा है।

पंजाब के बठिंडा में बंद का असर देखने को मिला। पंजाब के भवानीगढ़ में चंडीगढ़ -बठिंडा मार्ग को किसानों ने बंद किया हुआ था। परन्तु मेडिकल सेवाओं से जुड़े वाहनों को निकलने दिया जा रहा है। पंजाब के मोहाली में चंडीगढ़ अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट की तरफ जाने वाला मार्ग भी किसानों ने बंद कर दिया। बंद की वजह से आम लोगों के परेशानी हो रही है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button