कोहली के ना होने पर भी टीम इंडिया है मजबूत, विरोधी टीम से भी मिली ये राहत

पहले टेस्ट में 36 रन पर ऑलआउट हो जाना फिर तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी का चोटिल होकर बाहर होना और विराट कोहली पेटरनिटी लीव पर स्वदेश लौटना भारत के लिए बड़ा झटका है।

एडिलेड में खेले गए डे-नाईट टेस्ट मैच में 8 विकेट से मिली करारी शिकस्त के बाद भारतीय टीम शनिवार को मेलबर्न में खेले जाने वाले चार टेस्ट मैचों की श्रृंखला के दूसरे मैच में ऑस्ट्रेलिया का सामना करेगी। पहले टेस्ट में 36 रन पर ऑलआउट हो जाना फिर तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी का चोटिल होकर बाहर होना और विराट कोहली पेटरनिटी लीव पर स्वदेश लौटना भारत के लिए बड़ा झटका है।

Melbourne Test,India,Australia

पहले टेस्ट मैच में भारतीय टीम की समस्या बल्लेबाजी थी। टीम को दूसरे मैच में इसे भूलते हुए क्रीज पर टिकना होगा। दूसरी बात विराट कोहली की अनुपस्थिति में टीम की बल्लेबाजी भी कमजोर हुई है, शाॅ दोनों पारियों में फ्लाॅप रहे। ऐसे में शुभमन गिल को पृथ्वी की जगह टीम में रखा जाता है या वह कोहली की जगह लेंगे, यह देखना होगा।

इस बीच, रिषभ पंत भी विकेटकीपर की दौड़ में शामिल हैंं। रिद्धिमान साहा के पहले टेस्ट में विफल रहने के बाद पंत को प्लेइंग इलेवन में जगह मिल सकती है। लेकिन यह फैसला कप्तान अजिंक्या रहाणे को करना होगा। दूसरी ओर ऑस्ट्रेलिया पहले टेस्ट में जीत के साथ आत्मविश्वास से भरी है।

इस जीत ने उन्हें गुलाबी गेंद टेस्ट में अपना 100 प्रतिशत जीत का रिकॉर्ड बनाए रखने में मदद की, ऑस्ट्रेलिया बॉक्सिंग डे टेस्ट में अपने आखिरी दस में सात बार विजयी रहा है और वे इस आंकड़े को आठ तक पहुंचाना चाहेंगे। हालांकि ऑस्ट्रेलियाई टीम में डेविड वार्नर नहीं है,इसलिए भारतीय टीम थोड़ी राहत जरूर महसूस कर रही होगी। इसके अलावा भारतीय टीम के पक्ष में एक और बात है और वह है बॉक्सिंग डे टेस्ट में पिछले रिकॉर्ड।

भारत ने 2018 के बॉक्सिंग डे टेस्ट में ऑस्ट्रेलिया को 137 रनों से हराया था। ऐसे में भारतीय टीम चाहेगी कि उस रिकाॅर्ड को दोहराया जाए। भारत अगर यह मुकाबला जीत लेता है तो वह श्रृंखला में 1-1 की बराबरी पर आ जाएगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button