उत्तर प्रदेश: कोरोना संक्रमण से डा. राजीव रंजन का निधन, स्वास्थ्य विभाग शोक की लहर

19 अगस्त को जांच में उन्हें कोरोना संक्रमित पाया गया। बीआरडी मेडिकल कॉलेज गोरखपुर में इलाज चल रहा था। सोमवार की सुबह उनकी निधन की सूचना मिलते ही स्वास्थ्य विभाग में शोक की लहर दौड़ गई।

देवरिया।। कोविड-19 अस्पताल देवरिया के प्रभारी डॉ.राजीव रंजन की सोमवार की सुबह कोरोना से मौत हो गई। उनका बीआरडी मेडिकल कॉलेज गोरखपुर में इलाज चल रहा था। वे 36 वर्ष के थे।

उनकी मौत की सूचना पर ​जिलाधिकारी अमित किशोर, एसपी डॉ. श्रीपति मिश्र, सीएमओ डॉ. आलोक कुमार, एसडीएम संजीव कुमार उपाध्याय, सीओ अंबिका, तहसीलदार रामाश्रय प्रसाद, इंस्पेक्टर अरुण कुमार मौर्य ने डॉक्‍टर के घर पर पहुंच कर परिजनों को सांत्वना दी।

गौरतलब है कि 19 अगस्त को जांच में उन्हें कोरोना संक्रमित पाया गया। बीआरडी मेडिकल कॉलेज गोरखपुर में इलाज चल रहा था। सोमवार की सुबह उनकी निधन की सूचना मिलते ही स्वास्थ्य विभाग में शोक की लहर दौड़ गई।

रुद्रपुर कोतवाली क्षेत्र के रामचक गांव के रहने वाले डॉ. राजीव रंजन रुद्रपुर सीएचसी में तैनात थे। कोविड-19 का प्रभारी बनाकर सीएमओ के द्वारा जिला मुख्यालय संबद्ध कर दिया। उसके बाद से लगातार संक्रमित मरीजों का इलाज अपने सहयोगियों के साथ मिल कर रहे थे। और कोविड-19 के मरीज ठीक हो रहे थे।

तबीयत बिगड़ने पर 19 अगस्त को जांच में उन्हें कोविड 19 का लक्ष्ण पाया गया। 22 अगस्त को जिला मुख्यालय के कोविड-19 अस्पताल में भर्ती हो गए। तबीयत में सुधार न होने पर बाबा राघव दास बीआरडी मेडिकल कॉलेज गोरखपुर रेफर कर दिया। तबीयत में सुधार नहीं होने पर परिजन दिल्ली मेदांता में ले जाने की तैयारी कर रहे थे। तभी सोमवार की भोर में मेडिकल कॉलेज में वे काल के गाल में समा गए।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा.आलोक पाण्डेय ने बताया कि कोरोना की गाइडलाइन के अनुसार चिकित्सक का अंतिम संस्कार किया जाएगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button