Uttarakhand: उत्तरकाशी में बादल फटने से मची तबाही, ध्वस्त घरों के मलबे में कई लोग लापता

उत्तराखंड में भारी बरसात के कारण अचानक भागीरथी नदी समेत गाड़-गदेरे उफान पर आ गई हैं। बादल फटने से गांव मांडो, निराकोट, पनवाड़ी और कंकराड़ी के आवासीय घरों में पानी घुस गया।

देहरादून।। उत्तराखंड में भारी बारिश के बाद अब नदियां उफान पर आ गई हैं। उत्तरकाशी में कल देर रात बादल फटने से तीन लोगों की मौत हो चुकी है। मांडो में 02 महिला व 01 बच्चे का शव बरामद किया गया है। शवों को जिला अस्पताल में लाया गया है। समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक बादल पटने की घटना के बाद से मांडो गांव में अब भी चार लोग लापता हैं।

उत्तराखंड में भारी बरसात के कारण अचानक भागीरथी नदी समेत गाड़-गदेरे उफान पर आ गई हैं। बादल फटने से गांव मांडो, निराकोट, पनवाड़ी और कंकराड़ी के आवासीय घरों में पानी घुस गया। साथ ही गदेरा उफान पर आने से तीन लोग मलबे में फंसकर घायल हो गए।

एसडीआरएफ व आपदा प्रबंधन विभाग की टीम ने गणेश बहादुर पुत्र काली बहादुर, रविन्द्र पुत्र गणेश बहादुर, रामबालक यादव पुत्र मकुर यादव को रेस्क्यू कर अस्पताल पहुंचाया। घायलों का इलाज चल रहा है। डॉक्टरों के अनुसार तीनों खतरे से बाहर हैं।  जानकारी के अनुसार, मांडो गांव में नौ मकानों में पानी घुस गया। जबकि दो मकान पूरी तरह से धवस्त हो गए हैं। कई जगहों पर वाहनों के बहने की भी सूचना है।

म़तकों के नाम:-

1- माधरी पत्नी देवानन्द, उम्र 42 वर्ष, ग्राम मांडो
2- रीतू पत्नी दीपक, उम्र 38 वर्ष, ग्राम मांडो
3- कुमारी ईशू पुत्री दीपक, उम्र 06 वर्ष, ग्राम मांडो

CM ने दिए राहत बचाव कार्य के निर्देश–

घटना की सूचना मिलने के बाद सीएम पुष्कर सिंह धामी ने DM को राहत और बचाव कार्य शीर्ष प्राथमिकता पर कराने के निर्देश दिए हैं।

भारी बारिश का ऑरेंज अलर्ट जारी–

मौसम विभाग के मुताबिक अगले 24 घंटे में देहरादून, हरिद्वार, नैनीताल और पौड़ी जैसे जिलों में अत्यंत भारी बारिश की संभावना है। राज्य के बाकी हिस्सों में भी भारी से बहुत भारी बारिश के आसार है। मौसम विभाग की ओर से ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button