Uttarakhand: चार धाम यात्रा शुरू करे सरकार, या फिर करे ये काम

सेठी ने कहा कि सरकार जल्द ही कोविड गाइडलाइन का पालन करते हुए चार धाम यात्रा शुरू करे अन्यथा सरकार मासिक भत्ता दे।

हरिद्वार।। चारधाम यात्रा शुरू करने की मांग को लेकर महानगर व्यापार मंडल के पदाधिकारियों ने सत्याग्रह अभियान के दूसरे चरण में आज शिवमूर्ति, उतरी हरिद्वार, हरकी पौड़ी के पास होटल, धर्मशालाओं के प्रबंधन और व्यापारियों से मुलाकात की और उनके विचार जाने।

गुरुवार को महानगर व्यापार मंडल के जिलाध्यक्ष सुनील सेठी ने बताया कि पर्यटन पर आश्रित सभी होटल, धर्मशाला मालिकों से मिलकर उनके विचार उनकी पीड़ा जानने की कोशिश की। कई लोगों ने अपनी व्यथा को लिखित बयान किया।

उन्होंने बताया कि अभियान की समाप्ति पर पर्यटन से जुड़े हर व्यापारी की पीड़ा से मुख्यमंत्री को अवगत करवाया जाएगा। सेठी ने कहा कि सरकार जल्द ही कोविड गाइडलाइन का पालन करते हुए चार धाम यात्रा शुरू करे अन्यथा सरकार मासिक भत्ता दे। अगर चार धाम यात्रा शुरू नहीं होती तो निश्चित ही होटल व धर्मशालाओं के प्रबंधन पर बहुत बड़ा संकट खड़ा हो जाएगा।

इस मौके पर महानगर अध्यक्ष जितेंद्र चौरसिया, महामंत्री नाथीराम सैनी ने कहा कि जब अन्य राज्यों में अनलॉक प्रक्रिया शुरू हो चुकी हैं तो उत्तराखण्ड के व्यापारियों के साथ सौतेला व्यवहार क्यों किया जा रहा है। अन्य जगह धार्मिक यात्राएं प्रारंभ हैं तो चारधाम यात्रा पर पाबांदी क्याें।

सरकार को राहत पकेज की घोषणा करनी चाहिए। मुख्य रूप से होटल व्यवसायी जोनी अरोड़ा, जुगल किशोर, हरीश खत्री, राजू अरोड़ा, पुलकित दुआ, विनय दुआ, हन्नी दामिर, आशु चौधरी, रमन सिंह, मुकेश कुमार उपस्तिथ रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button