विधानसभा मानसून सत्र:सदन शुरू होने से पहले विधायकों का प्रदर्शन,चारधाम यात्रा शुरू करने की मांग.

img

विधानसभा मानसून सत्र:सदन शुरू होने से पहले विधायकों का प्रदर्शन,चारधाम यात्रा शुरू करने की मांग.

उत्तराखंड विधानसभा के मानसून सत्र के दूसरे दिन मंगलवार को कार्रवाई शुरू हो गई। सदन शुरू होने से पहले ही कांग्रेस विधायकों ने सरकार को घेरा। मांग की है कि नियम 310 के तहत हरिद्वार कुंभ में हुए कोविड जांच फर्जीवाड़ा में चर्चा की जाए। विपक्ष ने नियम 310 के तहत चर्चा करने की मांग को लेकर सदन में हंगामा भी किया। हंगामे को देख, नियम 58 के तहत कोविड जांच फर्जीवाड़े पर बाद में चर्चा होगी।

धारचूला कांग्रेस विधायक हरीश धामी और केदारनाथ विधायक मनोज रावत सदन की कार्रवाई शुरूहोने से पहले ही धरने पर बैठ गए थे। धामी ने धारचूला विधानसभा क्षेत्र में विधायक निधि से मोबाइल टावर का बजट जारी होने के बाद भी टावर नहीं लगने से नाराज होकर धरना दिया। कहा कि क्षेत्र में मोबाइल नेटवर्क बहुत बड़ी समस्या है। जबकि, केदारनाथ विधायक मनोज रावत ने चारधाम यात्रा खोलने को लेकर धरना दिया। मनोज रावत ने कहा कि चारधाम यात्रा से जुड़े लोगों के सामने आर्थिक का संकट पैदा हो गया है। रावत ने सरकार पर आरोप जड़ा कि सरकार कोर्ट में ठीक ढंग से पैरवी नहीं कर पा रही है।

मानसून सत्र के दूसरे दिन मंगलवार 24 अगस्त को विधानसभा में अनुपूरक बजट पेश किया जाएगा। इसके साथ ही सरकार सदन में छह अन्य विधेयक भी प्रस्तुत करेगी। विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल ने बताया कि मंगलवार को सदन में अनुपूरक बजट पेश किया जाएगा। विदित है कि सरकार ने कुछ दिन पूर्व हुई कैबिनेट की बैठक में पांच हजार करोड़ के करीब के अनुपूरक बजट को मंजूरी दी थी और अब मंगलवार को यह बजट प्रस्तुत किया जा रहा है। विदित है कि राज्य में अगले साल के शुरू में विधानसभा के चुनाव होने हैं। ऐसे में सरकार के अनुपूरक बजट को बेहद अहम माना जा रहा है।

Related News

--Advertiesment--

img